FAQ's

  1.  
  2.  
  3.  

आर्य समाज विधि से विवाह के लाभ :

1. व्यर्थ के खर्च से बचेंगे
2. दहेज़ : आर्य समाज में बिना लेन देन के विवाह कराये जाते है आर्य समाज दहेज़ प्रथा का कट्टर विरोधी है
3. जातिवाद : आर्य समाज जातिवाद का विरोध करता है और अंतरजातीय विवाह को प्रोत्शाहन देता है
4. बालविवाह : आर्य समाज में आप बल विवाह जैसी कुरीतियों से बचते है
5. उपरोक्त लाभों के अलावा आप को विवाह प्रमाण पत्र भी मिलता है जो आपके जीवन में उपयोगी होता है

  • लड़की की आयु 18 वर्ष से अधिक हो तथा लड़के की आयु 21 वर्ष से अधिक होनी चाहिए
  • लड़के और लड़की की आर्य समाज में आस्था हो
  • लड़के और लड़की दोनों के
    1.  आयु प्रमाण पत्र,
    2.  निवास प्रमाण पत्र
    3.  सपथ पत्र
    4.  4 – 4 फोटो पासपोर्ट साइज
    5.  2 गवाह साथ लाये (पहचान पत्र के साथ )

    अगर आप ने कागजात संबन्धी औपचारिकता पूरी कर ली है तो आप हमारे आर्य समाज मंदिर में विवाह करने योग्य है। आर्य समाज मंदिर में वैदिक मंत्रो द्वारा हिन्दू रीती रिवाज से आप का विवाह संपन्न करवाया जायेगा उसके बाद विवाह प्रमाण पत्र दिया जायेगा जो पुरे देश में मान्य है। आर्य समाज मंदिर से मिले प्रमाण पत्र के आधार पर विवाह पंजीकरण कार्यालय न्यायलय में भी पंजीकृत करा सकते है।

आयु प्रमाणपत्र ( Age Proof)

  • दसवी का प्रमाणपत्र
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • राशन कार्ड
  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • CMO द्वारा दिया गया आयु प्रमाण पत्र
    उपरोक्त में से कोई एक

निवास प्रमाण पत्र (Residence Proof)

  • पासपोर्ट
  • मतदाता पहचान पत्र
  • आधार कार्ड
    उपरोक्त में से कोई एक

4 – 4 पासपोर्ट साइज फोटो 

गवाह 2 पहचान पत्र के साथ

सपथ पत्र (AFFIDEBIT) दोनों पक्ष का

आर्य समाज मंदिर द्वारा दिया गया विवाह प्रमाण पत्र वैध और कारगर साबित करने के लिए पर्याप्त है लेकिन इसको अधिक प्रभावी बनाने के लिए और कोर्ट का भी आदेश है विवाह पंजीकरण सभी समूदायों में अनिवार्य है

यदि आप चाहते है सभी हिन्दू रीती रिवाजो के साथ विवाह हो और कोर्ट में पंजीकरण भी अति शीघ्र हो जाये तो यह कार्य आर्य समाज मंदिर में विवाह उपरांत विवाह को कोर्ट में उसी दिन पंजीकृत करा सकते है आर्य समाज मंदिर के सर्टिफिकेट के आधार पर

विवाह एवं कागजी कार्यवाही में २ घंटे का समय लगता है 

पूजन सामग्री  : 

  • 2 वरमाला
  • खुले फूल
  • मंगलसूत्र
  • मिठाई
  • फल
  • सिन्दूर

शेष विवाह सामग्री मंदिर में उपलब्ध रहती है